aadhi aabadi

  • Sep 20 2017 1:00PM

महिलाओं के लिए मददगार बना शक्ति एप

महिलाओं के लिए मददगार बना शक्ति एप
छात्राओं व महिलाओं की सुरक्षा के लिए झारखंड पुलिस ने शक्ति एप की शुरुआत की. इस एप का उद्देश्य छात्राएं, युवतियां एवं महिलाओं को हर हाल में सुरक्षा देना है. एंड्रॉयड आधारित इस एप की खासियत है कि महिलाएं किसी भी आपात स्थिति में सीधे पुलिस कंट्रोल रूम से जुड़ सकती हैं. इसके अलावा अपने रिश्तेदारों और दोस्तो से भी जुड़ सकती हैं.

इस एप से जुड़ने के लिए सबसे पहले आप अपने मोबाइल फोन के प्ले स्टोर में जाकर शक्ति एप को डॉउनलोड करें. डाॅउनलोड होने के बाद आप अपने दोस्त और रिश्तेदारों या परिजनों का मोबाइल नंबर इसमें सेव कर सकते हैं. मोबाइल फोन पर पीले बटन को दबाने पर वरीय पुलिस अधिकारियों के नंबर मिलेंगे. वहीं लाल बटन दबाने पर एप के वेरीफिकेशन सेंटर और अापके परिजन के मोबाइल नंबर पर कॉल जायेगा. वेरीफिकेशन सेंटर से संबंधित क्षेत्र की पीसीआर वैन को तुरंत इसकी सूचना मिलेगी.

वहीं कॉल के जरिये परिजनों को भी सूचना तत्काल मिल जायेगी. कॉल करते ही पुलिस कंट्रोल रूम के स्क्रीन पर कॉल करनेवाले का मोबाइल नंबर तथा लोकेशन आता है. उसके आधार पर शक्ति कमांडो, पीसीआर, टाइगर मोबाइल को सूचना दी जाती है और संबंधित महिला, छात्रा व युवती को सहायता प्रदान की जाती है. शक्ति एप का संचालन सिटी कंट्रोल रूम से होता है. उसकी पूरी देखरेख का जिम्मा सीसीआर डीएसपी के जिम्मे होता है.