aamukh katha

  • Sep 13 2017 1:09PM

किराये के मकान में चल रहा है स्वास्थ्य उपकेंद्र

किराये के मकान में चल रहा है स्वास्थ्य उपकेंद्र
जफर हुसैन
झारखंड  के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का पैतृक गांव है चौकडी. एक तो सूबे के स्वास्थ्य मंत्री का गांव, वहीं दूसरी ओर पलामू से बीजेपी सांसद विष्णु दयाल राम का आदर्श पंचायत.  दो शख्सियतों से जुड़े होने के बावजूद चौकडी गांव के ग्रामीण आज भी समस्याओं से नहीं उबर पाये हैं. इससे अन्य गांव की स्थिति बिना बताये ही स्पष्ट हो जाती है. चौकडी गांव में बहुत पहले से स्वास्थ्य उपकेंद्र चलता है, जो आज भी किराये के मकान में ही स्थित है. गांव का जो विकास पहले हुआ उसमें कोई परिवर्तन नहीं हुआ. हालांकि मंत्री श्री चंद्रवंशी ने अपने घर की भूमि पर शिव मंदिर और सामुदायिक भवन का निर्माण कराया है. 

पिछले साल शिवरात्रि के दिन इसकी प्राण प्रतिष्ठा धूमधाम के साथ करायी गयी. मंत्री ने यज्ञ के आयोजन के साथ-साथ स्वास्थ्य शिविर भी आयोजित कराया था. मंत्री के गांव में सिंचाई की कोई सुविधा नहीं है. एक झील है, जिससे गांव के किसानों की भूमि सिंचित होती थी. उसका बांध तीन वर्षों से टूटा है. पंचायत की भी लगभग यही स्थिति है. मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के वक्त मंत्री ने गांव में जल्द छह बेड का  स्वास्थ्य केंद्र बनाने की घोषणा की थी, जो अब तक मूर्त रूप नहीं ले सका है. मंत्री ने उवि हैदरनगर में मैट्रिक तक की शिक्षा हासिल की थी. उसे प्लस टू का दर्जा और हैदरनगर को प्रखंड का दर्जा तत्कालीन जल संसाधन मंत्री कमलेश कुमार सिंह ने 
दिलाया था. 

मंत्री श्री चंद्रवंशी अपने विद्यालय में आज तक बिजली नहीं दिलवा पाये और ना ही शिक्षकों की कमी दूर करा पाये. मंत्री ने हैदरनगर प्रखंड कार्यालय भवन के उदघाटन के मौके पर दो वर्ष पूर्व हैदरनगर में प्रखंड स्तरीय अस्पताल खोलने की घोषणा भी की थी, जो मात्र घोषणा बन कर ही रह गयी. स्वास्थ्य मंत्री श्री चंद्रवंशी ने मोहम्मदगंज में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भवन निर्माण का शिलान्यास किया है. सच्चाई ये है कि हैदरनगर और मोहम्मदगंज में सरकार ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के निर्माण स्वीकृति अब तक नहीं दी है.