badte gaao

  • Oct 25 2017 1:01PM

झारखंड की पहली मिनी एटीएम सेवा तेंतला पंचायत से शुरू गांव पहुंचा एटीएम, अब शहर जाने की जरूरत नहीं

झारखंड की पहली मिनी एटीएम सेवा तेंतला पंचायत से शुरू गांव पहुंचा एटीएम, अब शहर जाने की जरूरत नहीं

संजय सरदार

पूर्वी सिंहभूम जिले के पोटका प्रखंड की तेंतला पंचायत में मुखिया दीपांतरी सरदार की पहल पर मिनी एटीएम सेवा का शुभारंभ हुआ. इसके साथ ही यह राज्य की पहली पंचायत बन गयी, जहां मिनी एटीएम सेवा शुरू की गयी है. प्रदेश के हर गांव में मिनी एटीएम की व्यवस्था जल्द शुरू की जायेगी. तेंतला पंचायत में मिनी एटीएम सेवा का शुभारंभ पोटका विधायक मेनका सरदार ने विधिवत रूप से किया. एजीएस कंपनी की ओर से शुरू की गयी इस सेवा का संचालन अभिशा टेक्नोलॉजी प्रा.लि. द्वारा किया जायेगा.

बैंकों की ओर से ग्रामीणों को बैंकिंग प्रणाली से जोड़ने के लिए प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत शून्य राशि पर खाता खोला गया था. बहुप्रचारित इस योजना को ग्रामीण इलाके में सफल बनाने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने मिनी एटीएम सेवा योजना शुरू की है. इसके तहत हर गांव में अधिकतम पांच व्यापारियों को ई-पॉस मशीन दी जायेगी.

इसमें राशि की निकासी की सुविधा होगी. इस मशीन की कीमत करीब 31 हजार रुपये है, लेकिन कैश व्यवस्था को प्रोत्साहित करने के लिए व्यापारियों को 12,390 रुपये में यह मशीन उपलब्ध करायी जायेगी. कार्यक्रम का संचालन पंचायत सचिव मनोज कुमार सिन्हा ने किया. माैके पर बीडीओ प्रभाष चंद्र दास, मुखिया दीपांतरी सरदार, अभिसा टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन अभिषेक कुमार राम, झारखंड प्रभारी तापस चटर्जी, ओडिशा प्रभारी सीताराम महापात्र, वार्ड सदस्य गुरुचरण सिंह, रोबिन मुर्मू, सहायिका सोहागी हेंब्रम, सहिया किरण पात्र, रायमनी सिंह, लता सरदार, सुबाला सिंह, सुभद्रा सरदार, फुलन हेब्रम, जलस्वरी हेंब्रम, छोटोरानी सिंह समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

मिनी एटीएम ऐसे करेगा काम

ग्रामीणों को पैसे निकालने के लिए अब शहर की ओर रूख नहीं करना पड़ेगा. अब गांव में ही मिनी एटीएम की व्यवस्था की गयी है. इसके लिए आपको सबसे पहले अपना डेबिट कार्ड लेकर ई-पॉस मशीन रखनेवाले व्यापारी के पास जाना होगा. वहां जाकर आप अपने डेबिट कार्ड को ई-पॉस मशीन में स्वैप कर रसीद लेंगे, इसके बाद वह राशि व्यापारी द्वारा आपको उपलब्ध करा दी जायेगी, लेकिन ध्यान रखें कि वर्तमान में एक दिन में अधिकतम दो हजार रुपये की ही निकासी आप कर सकते हैं. इस दौरान कार्ड स्वैप करने के बाद संबंधित व्यक्ति यानी व्यापारी के खाते से जितनी राशि की कटौती होगी, व्यापारी को उतनी राशि का नकद भुगतान दूसरे दिन दोपहर 12 से तीन बजे के बीच भारतीय रिजर्व बैंक के निर्देश के आलोक में राष्ट्रीयकृत बैंक की ओर से व्यापारी के खाते में जमा हो जायेगी. एक बार ई-पॉस मशीन (मिनी एटीएम) के माध्यम से लेन- देन करने पर व्यापारी को भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से पांच रुपये कमीशन के तौर पर दिया जायेगा.व्यापारी मिनी एटीएम को मोबाइल सेवा के रूप में उपयोग कर सकते हैं.

बेहतर प्रयास, सभी पंचायतों में हो ऐसी व्यवस्था : मेनका सरदार

पोटका की विधायक मेनका सरदार ने कहा कि पोटका की तेंतला पंचायत में मिनी एटीएम की शुरुआत बेहतर प्रयास है. इससे ग्रामीणों को गांव में ही एटीएम की सेवा मिल जायेगी और लोगों को रुपये निकासी के लिए बैंक या शहर की ओर रूख नहीं करना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि तेंतला पंचायत की मुखिया की पहल सराहनीय है. इस तरह की पहल पूरे राज्य में होनी चाहिए.

यह शुरुआत है, पूरे राज्य में लागू करने की योजना : अभिषेक कुमार

अभिसा टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन अभिषेक कुमार राम ने कहा कि आरबीआई के निर्देशानुसार एजीएस कंपनी द्वारा इस मिनी एटीएम सेवा की शुरुआत की गयी है. इसका संचालन अभिसा टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि मुखिया की अनुशंसा के आधार पर हर पंचायत में पांच-पांच मिनी एटीएम खोलने की योजना है. इस व्यवस्था से ग्रामीण काफी लाभान्वित होंगे.

समाज के अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचाने की पहल : दीपांतरी सरदार

तेंतला पंचायत की मुखिया दीपांतरी सरदार ने कहा कि अक्सर देखा जाता है कि गांव के पेंशनधारी, मनरेगाकर्मी अपने रुपये निकासी से लिये लाइन में लगे रहते हैं.इसी समस्या को दूर करने के उद्देश्य से मिनी एटीएम सेवा की शुरुआत हुई है. इस मिनी एटीएम सेवा से गांव के सभी लोग भरपूर लाभ उठायेंगे. उन्होंने कहा कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक सुविधा पहुंचाने की यह विशेष पहल है.