badte gaao

  • Aug 18 2018 10:11AM

श्राद्ध कर्म के दिन लगाये जाते हैं पेड़

श्राद्ध कर्म के दिन लगाये जाते हैं पेड़

शेख कलीम

धनबाद जिला अंतर्गत बलियापुर प्रखंड व पूरे जिले में पेड़ लगाने की एक अनूठी मुहिम छेड़ी गयी है. पर्यावरण को संतुलित रखने व स्वच्छ वातावरण के लिए पेड़ बहुत जरूरी है. इसी के तहत क्षेत्रीय राजपूत समाज ने एक नयी पहल की शुरुआत की है. मुहिम के तहत किसी के निधन के बाद श्राद्ध कर्म के दिन समाज के द्वारा एक पेड़ लगाया जाता है और उस पौधे की देखरेख का जिम्मा मृतक के परिवारवालों को दिया जाता है. इससे जहां पर्यावरण शुद्ध होगा, वहीं मरनेवालों को लंबे समय तक याद भी रखा जायेगा. यह परंपरा लगातार पांच साल से चलती आ रही है. समाज की ओर से अब तक सैकड़ों पौधे लगाये गये हैं. समाज को मजबूती प्रदान करने के उद्देश्य से यह पहल पांच साल पहले लाल सिंह के निधन के 12वें दिन पांच फलदार वृक्ष लगाकर की गयी थी. बोकारो-धनबाद क्षेत्रीय राजपूत समाज के पूर्व अध्यक्ष अतुल सिंह कहते हैं कि इस परंपरा को आज भी निभाया जाता है. किसी के निधन पर आज भी श्राद्ध कर्म के दिन कम से कम एक पौधा जरूर लगाया जाता है. वहीं, दूसरी ओर कृषक मित्र संघ के जिला अध्यक्ष सीरिश कुमार सिंह अब तक क्षेत्र में हजारों पौधे लगा चुके हैं. उनका कहना है कि स्वच्छ वातावरण के लिए वे पौधे लगाते हैं. मुखिया संघ के जिला सचिव मनोज सिंह अपने दर्जनों साथियों के साथ टोले-मोहल्लों में पौधा लगाने का काम कर रहे हैं. पिछले पांच साल में ये एक हजार पौधे लगा चुके हैं. इसके अलावा वन बचाओ अभियान को बलियापुर प्रखंड में एक आंदोलन की तरह देखा जा रहा है. इसमें विभिन्न संगठन, स्कूल व कॉलेजों के छात्र-छात्राएं काफी बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं. लायंस क्लब ऑफ बलियापुर की ओर से सरकारी तथा गैर सरकारी जमीन पर पौधे लगाने का कार्य लगातार किया जा रहा है.