Community reporter

  • Aug 23 2019 5:55PM

जल संचयन एवं जल संरक्षण के लिए कार्यशाला का आयोजन

जल संचयन एवं जल संरक्षण के लिए कार्यशाला का आयोजन

रंजू कुमारी बेसरा

प्रखंड: बसंतराय

जिला: गोड्डा

गोड्डा जिले के बसंतराय प्रखंड परिसर में जल संचयन एवं जल संरक्षण के लिए प्रखंड स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में गोड्डा विधायक अमित मंडल बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए. उनके साथ प्रखंड प्रमुख स्वीटी देवी, बीस सूत्री अध्यक्ष सुरेश पासवान समेत कई गणमान्य लोग उपस्थित थे. कार्यक्रम का संचालन कर रहे रूपेश शर्मा ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान आंकड़ों के मुताबिक जलस्तर काफी नीचे चला गया है, जिसके कारण अगले 10 वर्षों तक पानी की समस्या से जूझना पड़ेगा. जल को सुरक्षित रखने के लिए जल संचयन बेहद जरूरी है. इसलिए हमें अपने घर के आस-पास खाली जगह में गड्ढा खोद कर बारिश के पानी को बचाना होगा. इसके साथ ही सभी को कहा गया कि परती जमीन पर टीसीबी बनाने का कार्य जल्द से जल्द पूरा किया जाये. उपायुक्त के आदेश के अनुसार जिले के सभी स्कूलों में 10-10 सहजन के पौधे लगाने का निर्देश दिया गया, ताकि पर्यावरण की रक्षा में मदद मिल सके. रूपेश ने बताया कि जल संचयन के लिए राज्य सरकार द्वारा मनरेगा के जरिये पनसोखा निर्माण का कार्य कराया जा रहा है. इसके तहत गांव और स्कूलों के सभी चापाकलों के पास सोख्ता गड्ढा बनाया जा रहा है, ताकि जल का संचयन हो सके. प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सभी स्कूलों और गांवों के चापाकलों में शॉक पीट बनाये जायेंगे. शॉक पीट की गहराई तीन फीट और चौड़ाई तीन फीट होनी चाहिए. इसका निर्माण 14 वें वित्त आयोग की राशि या मनरेगा से किया जा सकता है. महिला प्रसार पदाधिकारी माला घोष ने कहा कि हमें बूंद-बूंद पानी को संरक्षित करना होगा, तब जाकर पानी की बचत हो सकती है. विधायक अमित मंडल ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि जल ही जीवन है. इसलिए जल को संरक्षित रखना हम सभी की जिम्मेदारी है. इसे हम नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं. विधायक अमित मंडल ने कार्यशाला में उपस्थित सखी मंडल की महिलाओं को मानव जीवन में जल के महत्व के बारे में विस्तार से बताया. कार्यक्रम के अंत में विधायक अमित मंडल ने लाभुकों को विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ दिया और उन्हें सर्टिफिकेट प्रदान किया