ssakshtkaar

  • Aug 16 2019 5:13PM

मछली के बेहतर उत्पादन के लिए पानी की गुणवत्ता का करें प्रबंधन

मछली के बेहतर उत्पादन के लिए पानी की गुणवत्ता का करें प्रबंधन

बीएयू के मात्स्यिकी विज्ञान महाविद्यालय, गुमला के असिस्टेंट प्रोफेसर ओम प्रवेश कुमार रवि ने कहा  मछली के बेहतर उत्पादन के लिए अच्छे जल स्रोत, जल की गुणवत्ता, उन्नत मत्स्य बीज और उचित आहार की उपलब्धता जरूरी है. सामान्यतः मछलियां रोगाणुओं और पर्यावरण के साथ संतुलन बनाकर रहती हैं. कुछ परिवर्तन होते हैं, तो मछलियों के सामान्य जीवन पर इसका असर पड़ता है. इसके साथ ही अन्य रोगों से संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है. ऐसे में मछली के बेहतर उत्पादन के लिए किसानों को पानी की गुणवत्ता का प्रबंधन करना चाहिए

 

पानी की गुणवत्ता के लिए इन बातों का रखें ध्यान :

1. तापमान : मीठे पानी में मछली पालन के लिए जल का तापमान (25-32 सेंटीग्रेड) होना चाहिए. बड़े जलाशयों में तापमान को नियंत्रित करना कठिन है, लेकिन एरेटर का प्रयोग कर तापमान कम किया जा सकता है.

2. मटमैलापन : मॉनसून के समय अत्यधिक बारिश के कारण तालाब का पानी काफी गंदा हो जाता है. इससे मछलियों की मृत्यु दर बढ़ने की आशंका रहती है. ऐसे में एलम और अल्युमीनियम सल्फेट से तालाब के पानी का उपचार करना चाहिए.

3. पानी का रंग : पानी का रंग तालाब की स्थिति को दर्शाता है. अगर पानी का रंग हरा, नीला-हरा या भूरा-हरा रंग का है, तो यह मछलियों के प्राकृतिक आहार की मौजूदगी को बताता है. ऐसे पानी में अलग से कृत्रिम आहार डालने की जरूरत नहीं है. सुनहरे या पीले-भूरे रंग का पानी झींगा मछली की आहार की मौजूदगी को दर्शाता है और इस तरह का पानी झींगा मछली के पालन के लिए सबसे अच्छा होता है.

4. घुलित ऑक्सीजन : जलीय कृषि के लिए घुलित ऑक्सीजन की सघनता 5-10 मिलीग्राम प्रति लीटर होनी चाहिए. यदि इससे कम होता है, तो एरेटर का इस्तेमाल करना चाहिए या किसी भी तरह जैसे डीजल पंप का प्रयोग कर पानी की मिलावट को बढ़ाना चाहिए.

5. कार्बन डाइऑक्साइड : मछली पालन के लिए पानी में कार्बन डाइऑक्साइड तीन पीपीएम से कम होना चाहिए. यदि इससे अधिक है, तो लगातार एरेसन करना चाहिए. आहार वितरण में नियंत्रण, मछलियों का उचित संचयन और चूना का उचित मात्रा में प्रयोग करना चाहिए.

6. पीएच : मछलियों के लिए कम पीएच (अम्लीय पानी) हानिकारक है. आमतौर पर प्राकृतिक या थोड़ा क्षारीय पानी जिसका पीएच 7.5-9.5 हो उपयुक्त होता है.