yojana

  • Oct 2 2018 12:08PM

स्वच्छ भारत, स्वच्छ विद्यालय अभियान

स्वच्छ भारत, स्वच्छ विद्यालय अभियान

स्वच्छ भारत, स्वच्छ विद्यालय एक राष्ट्रीय अभियान है. इसका उद्देश्य सभी स्कूलों में लड़के-लड़कियों के लिए अलग-अलग शौचायल की व्यवस्था और स्कूली बच्चों के बीच सुरक्षा को बढ़ावा देने पर जोर देना है. इस अभियान के तहत हर साल स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार भी दिया जाता है. स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार बच्चों के स्वास्थ्य का निर्धारण करने और उन्हें बीमारी से सुरक्षित रखने के लिए एक अच्छी पहल है. स्कूल में पानी, सफाई व्यवस्था और स्वास्थ्य विज्ञान की सुविधा बच्चों और शिक्षकों के लिए स्वस्थ विद्यालय वातावरण प्रदान करती है

स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार
बच्चों के स्वास्थ्य का निर्धारण और उन्हें बीमारी से सुरक्षित करने के लिए एक अच्छी पहल है. पुरस्कार के तहत स्कूलों को 50 हजार रुपये और एक प्रमाण पत्र दिया जाता है. इसके अलावा पुरस्कार के लिए जिस जिले के सबसे अधिक स्कूल भाग लेते हैं, उन जिलों के जिला अधिकारी/जिला शिक्षा पदाधिकारी को पुरस्कृत किया जाता है.

पुरस्कार के लिए योग्यता
सभी सरकारी स्कूल, सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल, ग्रामीण व शहरी दोनों क्षेत्रों के निजी स्कूल इस प्रतियोगिता के पात्र हो सकते हैं. इसके तहत तीन श्रेणियां बनायी गयी हैं. जिला स्तरीय अवार्ड के लिए हरे, नीले व पीले रंग की श्रेणी वाले स्कूलों को रखा जाता है. राज्य स्तरीय अवार्ड के लिए हरे और नीले रंग की श्रेणी वाले स्कूल तथा राष्ट्रीय स्तर के अवार्ड के लिए हरे रंग की श्रेणी वाले स्कूलों को रखा जाता है.

कैसे करें आवेदन
स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार के लिए आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा. इस योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार की आधिकारिक वेबसाइट http://swachhvidyalaya.com पर जा सकते हैं. इसके बाद ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन/एप्लिकेशन फार्म खोलने के लिए ऑप्शन-बी के ऑनलाइन सर्वे लिंक पर क्लिक करें और मांगी गयी जानकारी को भरें. पूरी जानकारी देने के बाद आप रजिस्ट्रेशन के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करें. सबमिट करते ही आपके द्वारा दिये गये मोबाइल नंबर पर एक पासवर्ड आयेगा. पासवर्ड मिलने के बाद आवेदक को लॉगिन के लिए U-DISE Code और पासवर्ड दर्ज करना होगा. ऑनलाइन आवेदन/रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए स्कूलों को ऑनलाइन सर्वेक्षण फॉर्म के सभी छह सेक्शन को भी भरना होगा.